सोमवार, 21 जनवरी 2013

सफलता इंसान के अपने हाथ में है I Hindi Thoughts on Success/Failure with Explanation



अक्सर हम अपनी असफलता का इल्जाम दूसरों पे  मढ़ देते है और हम कभी भी यह नहीं सवीकार करते कि हमारी असफलता के पिच्छे असली कारण हम ही है I  हम  यह इसलिए करते है क्योंकि कि हम अपनी असफलता को मानने का जज्बा नहीं रखते और दूसरों पे इल्ज़ाम लगाना हमें एक आसान उपाय लगता है I  वहीँ दूसरी तरफ हम कभी भी दूसरों को अपनी सफलता का श्रेय नहीं देते I  असल में यह हमारा अहम् है जो हमें अपनी असफलता को न स्वीकार करने पर विवश कर देता है I  अगर हम अहम् से ऊपर उठ कर देखे तो हम जान सकेंगे कि हम असफल सिर्फ अपनी कमियों के कारण हुए है I 
हम दुनिया से चाहे जितना भी झूठ पर अंदर से हम भी इस सच्च को जानते है I  इस दुनिया में कोई भी हमें हमारी इच्छा के बिना असफलता की तरफ नहीं धकेल सकता, दुसरे तभी ऐसा कर सकते है जब हम उन्हें ऐसा करने का मौका दे I  सफलता इंसान के अपने योजनाबद्ध कार्यों का परिणाम है और सफलता पाने के हमें अपने कार्य शेत्र अति उत्तीर्ण होना आवश्यक है I  बिना योग्यता के सफलता की कल्पना मात्र भी एक व्यंग से अधिक कुछ नहीं है I  इसलिए दूसरों पे अपनी असफलता का इल्जाम देने की बजाय अपनी योग्यता को बड़ाने का प्रयास करे, जल्द ही सफलता आप का हाथ चूमेगी I 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Popular Posts