सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

10 प्रेरक हिंदी विचार तस्वीरों के रूप में (10 Motivational Hindi Thoughts)

में आपके सामने रखने जा रहा हूँ, दस प्रेरक हिंदी विचार, जिन्हें पड़ कर आप प्रेरणा हासिल कर सकते है।  जीवन कई बार हम सभी को प्रेरणा की आवश्यकता पड़ती है और इस समय हम प्रेरक हिंदी विचारों का सहारा ले सकते है।  और और हिंदी विचार पढ़ने के लिए आप मेरे दुसरे ब्लॉग http://hindithoughts.arvindkatoch.com/ पर पढ़ सकते है I आप हमारा हिंदी विचार एप गूगल प्ले से डाउनलोड कर सकते है। To Download free Hindi Thoughts Android App Click Here

10 प्रेरक हिंदी विचार तस्वीरों के रूप में (10 Motivational Hindi Thoughts) 

Fear, fearful, always, Hindi Thought, Quote
It is Better to Face Fear 

2) Hindi Thought by Swami Vivekanada on Failure

Failure, Hindi Thought, Swami Vivekanada 
Hindi Thought by Swami Vivekanada 

3) Hindi Thought on Thankful


confident, problems, thankful, bad time, Hindi Thought, Quote
Hindi Thought on Bad Time
4) Hindi Thought on To be Happy 

Happy, everything, learn, life, rise, sorrows, Hindi Thought, Hindi Quote
To be happy doesn't mean everything is fine
5) Hindi Thought Hard Work
Hard work, stairs, luck, lift, time, heights, Hindi Thoughts, Quote
Hard work is like stairs and Luck is like a lift.
6) Hindi Thought on Impress the World 

impress, world, exist, live, life, happy, Hindi, Thought, Quote
I do not exist to impress the world 
7) Hindi Thought on Clock

Treat, useless person, life, stopped watch, time, Hindi Thought, Quote,
Don't treat anyone as a useless person in life
8) Hindi Thought on Chosen Path

confidence, succeed, Hindi Thought, Quote, Dhirubhai Ambani,
If you Believe your chosen Path  Hindi Thought
9) Hindi Thought on Success 
succeed, willing, Hindi Thought, Quote, depends
Will You Succeed or Not (Hindi Thought)
10) Hindi Thought on Never Give Up 

Hard time, Rumi, oppose, feel, Never giveup, Rumi, Rumi quote, Hindi,
When you go through a hard period

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

डाउनलोड करे हिंदी सुविचार की एंड्राइड ऐप (Download Hindi Thoughts (Suvichar) Free Android App)

अब आप हिंदी भाषा में सुंदर हिंदी सुविचार अपने मोबाइल फ़ोन पर भी पढ़ सकते है।  इसके लिए आप को हिंदी विचार की मुफ्त में उपलब्ध एंड्राइड ऐप को डाउनलोड करना होगा।  इस ऐप के द्वारा सैंकड़ो हिंदी विचारों को पढ़ सकते है।  सभी हिंदी विचारों को सुंदर तस्वीरों के रूप में पेश किया गया है।  इन विचारों को अमल में लाकर हम जीवन में कई अच्छे सुधार ला सकते है। आज के समय में मोबाइल फ़ोन हमारा एक सच्चा साथी बन गया है और इससे हम कई कार्य ले सकते है।  मोबाइल एप्लीकेशन (ऐप) हमारे मोबाइल फ़ोन और अधिक सक्षम बना रही है।  हिंदी विचार की मोबइल ऐप इसी तरफ एक कदम है।  इस ऐप की मदद से आप कभी भी और कही हिंदी सुविचार  पढ़ सकते है और इतना ही नहीं आप इन हिंदी विचारों को अपने मित्रों के साथ बाँट भी सकते हो। हिंदी विचार ऐप के जरिये आप रोज नये हिंदी सुविचार  भी पढ़ सकते है।  यह ऐप आप को हिंदी विचार का सबसे बड़ा संग्रह प्रधान करती है जो लगातार बढ़ता ही जा रहा है। हिंदी विचार ऐप डाउनलोड करने के यहाँ क्लिक करे  कुछ हिंदी विचार की झलकियाँ ओर अधिक हिंदी विचार पढ़ने  के लिए जाये  - http://hindithoughts.arvindkatoch.

क्या हम एक नंगे समाज की रचना कर रहे है? (Are we creating a naked Society?)

आज हम सब के सामने एक बड़ा सवाल यह है कि क्या हम एक नंगे समाज की रचना कर रहे है।  नंगे समाज से मेरा मतलब एक ऐसे समाज से है जो समाज आपने उच्च मूल्यों को भूल कर धरातल की और जा रहा हो। आज का समाज बहुत ही खोखली बुनियाद पर टिका हुआ है, जिस कारण से यह तेज़ी से टूटता जा रहा है। पर हैरान करने वाली बात यह है कि हम देख कर भी सब अनदेखा कर रहे है।  आज समाज में बुराई एक बेकाबू हो चुकी जंगल की आग की तरह पुरे समाज को खा जाने के लिए बेकरार है। आज के समाज में चोर ही राजा है वह ईमानदार लोगों के लिए कानून बना रहा है।  रिश्ते केवल स्वार्थ तक सीमित होकर रह गए है और हर एक दूसरे में बुराई ढूंढने में व्यस्त है।  आज लोग जीवन में ख़ुशी से कहीं अधिक पैसे को महत्व दे रहे है और एक दिन पैसे के फंदे में फंस कर अपने जीवन को गवा भी बैठते है।  अच्छे रिश्तों का तो समाज में एक अकाल आ गया है।  पुँजीपति समाज हर इंसान को एक मशीन बना देना चाहता है और सरकार अपने भ्रष्टाचार से लोगों का खून चूस रही है। आज इस बात की एक होड़ चल पड़ी है कि कौन कितना अधिक नंगा हो सकता है।  लाखों लोग आत्महत्या कर रहे है, पानी पहले तो मिलता नह

चित्रों के साथ हिमाचल प्रदेश के खूबसूरत पक्षियों की सूची (भाग - 1)

चित्रों के साथ हिमाचल प्रदेश के पक्षियों की सूची ( Click Here ) यहां आप उन भारतीय पक्षियों की सूची पा सकते हैं जो हम भारत के हिमाचल प्रदेश राज्य में पा सकते हैं। हिमाचल प्रदेश के माध्यम से हिमालय की सीमा गुजरने के कारण, हम यहाँ कई पक्षियों को पा सकते हैं जो हिमालय क्षेत्र के लिए विशिष्ट हैं। हिमाचल भारत का एक छोटा पहाड़ी राज्य है और वहां की जनसंख्या भारत के अन्य राज्यों की तुलना में छोटी है। इसलिए, पक्षियों को खोजने के लिए मनुष्यों से अछूते कई स्थानों को ढूंढना एक आसान काम है। यह हिमाचल प्रदेश में ली गई सभी पक्षियों की तस्वीरों की सूची है और यह सूची बढ़ती जा रही है क्योंकि मुझे नए पक्षियों को पकड़ने का मौका मिलता है।  1) एशियाई वर्जित छोटा उल्लू (ग्लूसीडियम क्यूकुलोइड्स)    एक उल्लू की तुलना में एक यह उल्लू आकार में छोटा होता है। हम हिमाचल प्रदेश में उल्लू और छोटे उल्लू की कई किस्में पा सकते हैं। एशियाई वर्जित उल्लू उनमें से एक है। इसके बारे में अधिक जानने के लिए यहां क्लिक करें 2. एशियाई स्वर्ग फ्लाईकैचर(Terpsiphone paradise) (हिंदी नाम -दूधराज या सुल्ताना बुलबुल)

सुशांत राजपूत और रिया चक्रवर्ती की लव स्टोरी का सच

अंग्रेजी में पढ़ें   आज पूरी दुनिया को सुशांत राजपूत और रिया चक्रवर्ती की प्रेम कहानी की सच्चाई का बेसब्री से इंतजार है। यह कहानी तब सुर्खियों में आई जब सुशांत के पिता ने सुशांत की आत्महत्या के लिए रिया को दोषी ठहराया। अचानक, रिया चक्रवर्ती जो कहानी में एक सकारात्मक चरित्र थी, एक नकारात्मक चरित्र बन जाती है, और हम अग्रणी टीवी चैनलों पर उनके संबंधों के दैनिक पोस्टमॉर्टम को देखने लगे। हम  दैनिक टीवी चैनलों को सुशांत और रिया के पिछले जीवन से जुड़ी नई कहानियों और ऑडियो क्लिपिंग से भरा हुए देखते हैं। इन सबने उनकी प्रेम कहानी पर सवालिया निशान लगा दिया है। क्या यह वास्तव में एक प्रेम कहानी थी या यह कुछ और थी। शुशांत और रिया की प्रेम कहानी ने बुरी शक्ल ले ली क्योंकि इसका बुरा अंत सुशांत की मौत के साथ हुआ । उनकी मृत्यु पूरे देश के लिए एक आघात के रूप में सामने आई और किसी को भी इस खबर पर विश्वास नहीं हुआ कि वह आत्महत्या कर सकते हैं। उन लोगों के अनुसार सुशांत एक बोल्ड किरदार थे जो उनके आसपास रहते थे। इसलिए, हर कोई हैरान है कि ऐसा क्या हुआ जिसके कारण सुशांत को यह चरम कदम उठाना पड़ा। सुशांत की मृत्य