सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

महिलायें एक कमज़ोर सेक्स (लिंग) है

महिलायें यहाँ मानवता के विकास के समय से हैं। भगवान ने दुनिया की भलाई के लिए एक ही समय में दोनों आदमी और औरतों को बनाया है। दोनों आदमी और औरतों को हर जीवन के विकास के लिए एक दूसरे पर निर्भर करते हैं। जीवन का चक्र बंद हो जाएगा, अगर उनमें से एक धरती से गायब हो जाता है। लेकिन महिलाओं की हालत वर्तमान दुनिया में एक कमजोर सेक्स से अधिक नहीं है। इस समय अधिकांश दुनिया आदमी के नियंत्रण में है। यह पूरी दुनिया के लिए सच है, अमेरिका और ब्रिटेन जैसे विकसित देशों के लिए भी। इन दशो में भी महिलाओं बुरी तरह से व्यवहार किया जाता है। यदि यह विकसित देशों में महिलाओं की स्थिति है तो, हम भारत, पाकिस्तान देशों से क्या उम्मीद कर सकते हैं?

हालांकि, दुनिया भर में महिलाओं ने अपने समग्र जीवन के स्तर में सुधार पर देखा है पर अभी भी बहुत से काम किए जाने की आवश्यकता है। महिलाओं ने शिक्षा में अच्छी सफलता हासिल की है, कॉलेजों और स्कूलों में उनकी संख्या पुरुष के बराबर या उन से भी अधिक है। यह सभी महिलाओं के लिए एक उत्साहवर्धक संकेत है। हालांकि प्रमुख चिंता महिलाओं के नौकरियों में विभिन्न शीर्ष पदों कब्जे की संख्या है। शीर्ष पदों में महिलाओं की संख्या बहुत कम है। सिर्फ 17 महिलये कार्यकारी निदेशक है 100 सबसे बड़ी FTSE कंपनियों में. यूरोपीय संघ की संसद के सदस्यों की सातवीं से भी कम महिलाएँ हैं। शोधकर्ताओं को विश्वास है कि महिलाओं का प्रतिनिधित्व कंपनी जगत वर्षों से स्थिर बना हुई है

महिलाओं का नौकरी के साथ जारी नहीं रखने या उच्च स्थान नही लेने के लिए मुख्य कारण यह है कि महिलाओं की स्थिति में वृद्धि के साथ वे कम वांछनीय हो जाती है। एक आदमी उसकी सचिव से प्यार कर सकता है, लेकिन उसके मालिक से प्यार करने की संभावना बहुत ही कम हैं। इसलिए कई महिलाओं को उनके परिवार या प्रेम जीवन के लिए अपने कैरियर का बलिदान करने के लिए चुनती हैं। इस कारण ने नॉर्वे की संसद को यह नियम पारित करने के लिए विवश किया है कि कॉर्पोरेट बोर्डों के निर्देशकों में से 40% महिलाओं को लिया जाना चाहिए। भारत में यह और भी मुश्किल है एक अत्यंत योग्य लड़की के लिए एक योग्य आदमी को खोजना। वहाँ लोगों के मन में एक प्रवृत्ति है कि उनकी पत्नी उनसे कम बेहतर होनी चाहिए। एक आदमी उससे योग्य औरत से विवाह करने का मौका बहुत कम है।

महिलाओं द्वारा दूसरी बड़ी समस्या का सामना उनकी अवर सेक्स छवि है। उनसे एक प्राणी के रूप से बर्ताव किया जाता हैं, जिसे बचाने के लिए किसी की जरूरत है, और उसे शरण देने के लिए। महिलाये चाहें पहाडो पर चढ़ जाए पर नेतृत्व के गुण के लिए हमेशा पुरुषों को जिम्मेदार ठहराया जाता है। यह छवि महिलाओं के आत्मविश्वास कम करने में प्रमुख भूमिका निभाती है। पृथ्वी पर महिलाये सबसे अद्भुत प्राणी है, सब लोग उन से शादी करना चाहते है और उन के साथ सेक्स करना चाहते हैं, लेकिन किसी को भी बेटी के रूप में विशेष रूप से भारत में उनकी चाहत नही है। यह हाल भारत सरकार द्वारा उपलब्ध डेटा से स्पष्ट हो जाता है कि 0 से एक वर्ष के आयु वर्ग के लिए हर 1000 पुरुष बच्चों पर यहीं भारत में केवल 830 लडकियांहैं। यह संखिया कुछ राज्यों में 800 से भी कम है। इसलिए हमें महिलाओं के बारे में समाज की सोच की प्रक्रिया में एक बड़ी परिवर्तन की आवश्यकता होती है।

इस लेख को अंग्रेजी में पढ़े Women are still inferior sex

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सुदीक्षा भाटी - एक और लड़की कुछ पुरुषों की बीमार मानसिकता का शिकार हो गई

अंग्रेजी में पढ़ें कई सपने और आशाओं के साथ एक अद्भुत लड़की का एक और जीवन कुछ पुरुषों के खराब मानसिक रवैये ने  खो लिया  है जो अभी भी भारत में महिलाओं को हीन सेक्स मानते हैं। सुदीक्षा भाटी भारत की लाखों असहाय लड़कियों के लिए जीवन में कुछ बड़ा हासिल करने की प्रेरणा थीं। उसने एक ट्विटर अकाउंट पर लिखा है कि वह 'महिला सशक्तीकरण और शिक्षा की एक ना माफ़ी मांगने वाली अधिवक्ता है। लेकिन दुख की बात है कि महिला सशक्तीकरण और शिक्षा का उसका अपना सपना कुछ लोगों ने तोड़  दिया।
मोटे तौर पर दो साल पहले, चाय स्टाल के मालिक की बेटी सुदीक्षा भाटी ने शीर्ष अमेरिकी कॉलेज में अध्ययन के लिए एचसीएल से 3.8 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति प्राप्त कर इतिहास रचा था। उसने अपनी सीबीएसई इंटरमीडिएट परीक्षाओं में 98% अंक प्राप्त किए। प्रत्येक भारतीय ने उसकी उपलब्धि पर गर्व महसूस किया और हमें लगा कि हमें एक और महान दिमाग मिला है जो निकट भविष्य में भारतीयों को गर्वित करेगा। हालांकि, किसी ने कभी नहीं सोचा था कि सुदीक्षा भाटी का जीवन इतना छोटा होगा। इस बातचीत का सबसे दुखद बिंदु यह है कि वह एक स्वाभाविक मौत नहीं हुई है बल्कि मा…

क्या हम एक नंगे समाज की रचना कर रहे है? (Are we created a naked Society?)

आज हम सब के सामने एक बड़ा सवाल यह है कि क्या हम एक नंगे समाज की रचना कर रहे है।  नंगे समाज से मेरा मतलब एक ऐसे समाज से है जो समाज आपने उच्च मूल्यों को भूल कर धरातल की और जा रहा हो। आज का समाज बहुत ही खोखली बुनियाद पर टिका हुआ है, जिस कारण से यह तेज़ी से टूटता जा रहा है। पर हैरान करने वाली बात यह है कि हम देख कर भी सब अनदेखा कर रहे है।  आज समाज में बुराई एक बेकाबू हो चुकी जंगल की आग की तरह पुरे समाज को खा जाने के लिए बेकरार है।

आज के समाज में चोर ही राजा है वह ईमानदार लोगों के लिए कानून बना रहा है।  रिश्ते केवल स्वार्थ तक सीमित होकर रह गए है और हर एक दूसरे में बुराई ढूंढने में व्यस्त है।  आज लोग जीवन में ख़ुशी से कहीं अधिक पैसे को महत्व दे रहे है और एक दिन पैसे के फंदे में फंस कर अपने जीवन को गवा भी बैठते है।  अच्छे रिश्तों का तो समाज में एक अकाल आ गया है।  पुँजीपति समाज हर इंसान को एक मशीन बना देना चाहता है और सरकार अपने भ्रष्टाचार से लोगों का खून चूस रही है।

आज इस बात की एक होड़ चल पड़ी है कि कौन कितना अधिक नंगा हो सकता है।  लाखों लोग आत्महत्या कर रहे है, पानी पहले तो मिलता नहीं है और अ…

डाउनलोड करे हिंदी सुविचार की एंड्राइड ऐप (Download Hindi Thoughts (Suvichar) Free Android App)

अब आप हिंदी भाषा में सुंदर हिंदी सुविचार अपने मोबाइल फ़ोन पर भी पढ़ सकते है।  इसके लिए आप को हिंदी विचार की मुफ्त में उपलब्ध एंड्राइड ऐप को डाउनलोड करना होगा।  इस ऐप के द्वारा सैंकड़ो हिंदी विचारों को पढ़ सकते है।  सभी हिंदी विचारों को सुंदर तस्वीरों के रूप में पेश किया गया है।  इन विचारों को अमल में लाकर हम जीवन में कई अच्छे सुधार ला सकते है।

आज के समय में मोबाइल फ़ोन हमारा एक सच्चा साथी बन गया है और इससे हम कई कार्य ले सकते है।  मोबाइल एप्लीकेशन (ऐप) हमारे मोबाइल फ़ोन और अधिक सक्षम बना रही है।  हिंदी विचार की मोबइल ऐप इसी तरफ एक कदम है।  इस ऐप की मदद से आप कभी भी और कही हिंदी सुविचार  पढ़ सकते है और इतना ही नहीं आप इन हिंदी विचारों को अपने मित्रों के साथ बाँट भी सकते हो।

हिंदी विचार ऐप के जरिये आप रोज नये हिंदी सुविचार  भी पढ़ सकते है।  यह ऐप आप को हिंदी विचार का सबसे बड़ा संग्रह प्रधान करती है जो लगातार बढ़ता ही जा रहा है।

हिंदी विचार ऐप डाउनलोड करने के यहाँ क्लिक करे 

कुछ हिंदी विचार की झलकियाँ






ओर अधिक हिंदी विचार पढ़ने  के लिए जाये  - http://hindithoughts.arvindkatoch.com/

अब Google फ़ोटो के साथ मुफ्त में असीमित चित्रों को संग्रहीत करें

अंग्रेजी में पढ़ेंआज, हम एक डिजिटल दुनिया में रहते हैं और इस दुनिया में, डिजिटल तस्वीरें एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। एक सभ्य कैमरे वाले सस्ते स्मार्टफोन की बदौलत अब कोई भी हजारों तस्वीरों को क्लिक कर सकता है। इससे पहले, फिल्मों के साथ कैमरों के दिनों में, हमारे पास तस्वीरें लेने की क्षमता सीमित थी और यह काफी महंगा मामला था। अब हमें या तो खर्च या चित्रों को विकसित करने के बारे में चिंता करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि स्मार्टफोन हमें सीधे चित्रों की एक डिजिटल कॉपी देता है जिसे किसी भी डिजिटल डिवाइस पर देखा जा सकता है। फोन की भंडारण क्षमता में वृद्धि के साथ, हम अपने मोबाइल पर हजारों चित्रों को संग्रहीत कर सकते हैं।
हालांकि, हर बीतते साल के साथ, हमारे भंडारण में चित्रों की संख्या बढ़ती रहती है और हमें अपने चित्रों को संग्रहीत करने के लिए कुछ वैकल्पिक माध्यम की आवश्यकता होती है। विकल्पों में से एक हार्ड ड्राइव में चित्रों को संग्रहीत करना है, लेकिन ऐसा करने के लिए हमें पहले एक हार्ड ड्राइव खरीदना होगा जो कई लोगों के लिए एक महंगा विकल्प है। इसलिए, हमें एक विश्वसनीय समाधान की आवश्यकता …

चाणक्य के १५ अनमोल विचार (15 most Valuable Quotes of Chanakya)

चाणक्य ने हमें चाणक्य नीति के रूप में एक ज्ञान का खजाना दिया है, जिसका उपयोग हम अपने जीवन का स्तर ऊपर उठाने में कर सकते है। चाणक्य ने केवल अपने ज्ञान के बल पर एक विशाल साम्राज्य की स्थापना की और इस जीवन ज्ञान को हमारे लिए चाणक्य नीति में दर्ज कर दिया। चाणक्य का दिया हुआ ज्ञान आज के समय में भी उतना उपयोगी है, जितना कि वह पहले के समय में था। चाणक्य निति में दी हुए बातों को अपना कर हम अपने जीवन का सत्तर सुधार सकते है और एक सफल इंसान बन सकते है। इसी श्रृंखला में हम आपको चाणक्य के १५ अनमोल विचार पेश कर रहे है, जो आपको जीवन में आगे बढ़ने में मदद कर सकते है।


1)  जो जिसके मन में है, वह उससे दूर रह कर भी दूर नहीं है-

2) जिस घर में दुष्ट स्त्री, छल करने वाला मित्र-

3) भाग्य को अत्यंत शक्तिशाली समझना चाहिए-
4) जो व्यक्ति जीवन में समय का ध्यान नहीं रखता है-
5) जैसे हजारों गायों के मध्य भी बछड़ा अपनी माता-
6) 'असंभव' शब्द का प्रयोग केवल-
7) व्यक्ति अकेला पैदा होता है और अकेले ही मर जाता है-

8) इस संसार में आज तक किसी को भी अपने धन से-

9) अति सुंदर होने के कारण सीता का हरण हुआ-